नारायणमूर्ति ने कहा- बेरोजगारी दूर करनी है तो उद्यमियों के रास्ते की बाधाएं हटाए सरकार

कोलकाता. इंफोसिस के संस्थापक एनआर नारायणमूर्ति ने कहा है कि बेरोजगारी दूर करनी है तो सरकार उन उद्यमियों के रास्ते की बाधाएं हटाए, जो कानून का पालन करते हुए अपना काम कर रहे हैं। शनिवार को वह आईआईएम कोलकाता के दीक्षांत समारोह में अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।  
 

मिनिमम गवर्नमेंट और मेक्जिमम गवर्नेंस को लागू करना होगाः मूर्ति

  1. नारायणमूर्ति ने कहा कि सरकार को मिनिमम गवर्नमेंट और मेक्जिमम गवर्नेंस की नीति लागू करनी होगी। उनका कहना था कि सरकार की भूमिका निष्पक्ष नियंत्रक की तरह से होनी चाहिए, जिसमें नीति निर्धारकों को ध्यान रखना होगा कि कहीं पर भी नियमों को तोड़ मरोड़कर कारोबार न हो। 
  2. इंफोसिस के संस्थापक ने कहा कि सरकार को ध्यान रखना होगा कि उध्यमियों के रास्ते में बेवजह की अड़चनें पैदा न हों। अगर वे अपना काम ठीक तरीके से कर सकेंगे तो रोजगार के अवसर भी तेजी से सृजित होंगे। हालांकि, उन्होंने अड़चनों की व्याख्या नहीं की।
  3. मूर्ति का कहना था कि जिस देश में सरकार व्यापारी बनने लगती है, वहां लोग भिखारी हो जाते हैं। उनका जोर इस बात पर था कि सरकार को सीधे तौर पर कारोबार में दखल नहीं देना चाहिए। उनका कहना था कि जिस देश का हर नागरिक खुश हो, वो ही तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ता है। 
     
  4. उन्होंने रूजोवेल्ट का जिक्र करते हुए कहा कि चार तरह की स्वतंत्रता लोगों को मिलनी चाहिए। इनमें अभिव्यक्ति और बोलने, अपने तरीके से भगवान की पूजा करने, भूख और भय से मुक्ति से आजादी की बात शामिल हैं। उनका कहना था कि ये सारे अधिकार लोगों को जन्म से मिलने चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *